This is a div element with a box-shadow
-->

Best 20 Hindi Good Morning Shayari, Good Morning Images





कलियाँ खिल उठी एक प्यारे ♥️ से एहसास के साथ,
एक नया विश्वास दिन की शुरूआत 🌤️
एक मीठी सी मुस्कान 😊 के साथ आपको बोलना है
~~~ Good Morning 


 ताज़ी हवा में फूलो 💐 की महक हो, पहली किरण में चिडियों 🐦 की चहक हो, जब भी खोलो तुम अपनी 😉 पलके, उन पलकों में बस खुशियों 😀 की झलक हो…


 ए हवा तू उधर तो जाती होगी; उनको हमारा हाल तो बताती होगी; ज़रा छू कर तो देख उनके दिल को; क्या याद उनको भी हमारी आती होगी। सुप्रभात!



“जीवन में “”परेशानिया”” चाहे जितनी हों, “”चिंता”” करने से और ज्यादा होती हैं, “”खामोश”” होने से बिलकुल “”कम””, “”सब्र”” करने से “”खत्म”” हो जाती हैं, तथा परमात्मा का “”शुक्र”” करने से “”खुशियो”” मे बदल जाती हैं। सुप्रभात 


सुबह की धूप कुछ यादों के साथ आती है; खिलते फूलों से मीठी खुशबु आती है; हर सुबह आपको नये रास्ते दिखाती है; सूरज की किरणें आपके जीवन को रंगीन बनाती हैं। सुप्रभात!


“फूलों की बारिश और प्यार भरे तोहफे के साथ , आपको प्यारी सी सुबह की ढेर सारी बधाई. सुप्रभात 






कोई-कोई शख्स इतना ख़ास होता है; नजरों से दूर पर यादों में पास होता है; कभी-कभी ही आता है मैसेज उनका; पर हर मैसेज से अपनेपन का एहसास होता है। गुड मॉर्निंग 


“सुप्रभात ऐ सुरज मेरे अपनो को यह पैगाम देना; खुशियों का दिन हँसी की शाम देना; जब कोई पढे प्यार से मेरे इस पैगाम को; तो उन को चेहरे पर प्यारी सी मुस्कान देना। सुप्रभात!


जिंदगी गुजरे हँसते-हँसते; प्यार और ख़ुशी मिले रस्ते-रस्ते; हो मुबारक आपको नया सवेरा; कबूल करें हमारा सलाम-नमस्ते। गुड मॉर्निंग!


“जो उड़ते हैं अहम के आसमानों में; ज़मीन पर आने में वक़्त नहीं लगता; हर तरह का वक़्त आता है ज़िंदगी में; वक़्त के गुज़रने में वक़्त नहीं लगता। सुप्रभात!”




जन्म अपने हाथ में नहीं; मरना अपने हाथ में नहीं; पर जीवन को अपने तरीके से जीना अपने हाथ में होता है; मस्ती करो मुस्कुराते रहो; सबके दिलों में जगह बनाते रहो। गुड मॉर्निंग!



“बढ़ते कदमो को ना रुकने दे ऐ मुसाफिर; चाहे रास्ता हो कठिन और मंज़िल हो दूर; चाहे ना मिले रास्ते में कोई हमसफ़र; फिर भी झुकना नहीं और पा लेना लक्ष्य को करके बाधाएं सारी दूर। सुप्रभात !


सोचते हैं कि गुलाब भेज दें; चाहते तो हैं कि सारा जहाँ भेज दें; मैं तो जा रहा हूँ सोने; दिल तो करता है आपकी पलकों पे एक प्यारा सा ख्वाब भेज दें। गुड मॉर्निंग!




“सारा जहाँ उसी का है जो मुस्कुराना जानता है; रौशनी भी उसी की है जो शमा जलाना जानता है; हर जगह मंदिर मस्जिद और गुरूद्वारे हैं लेकिन; ईश्वर तो उसी का है जो सर झुकाना जानता है। सुप्रभात




पलक झुकाकर सलाम करते हैं; दिल की दुआ आपके नाम करते हैं; कुबूल हो अगर तो मुस्कुरा देना; हम यह प्यार सा दिन आपके नाम करते हैं। सुप्रभात!



“इतिहास कहता है कि कल सुख था, विज्ञान कहता है कि कल सुख होगा, लेकिन धर्म कहता है कि अगर मन सच्चा और दिल अच्छा है तो हर रोज़ सुख होगा। सुप्रभात!”

kkkk

दिल में अपने एक अरमान लगाये बैठे हैं; भीड़ में दुनिया की अपनी पहचान बनाये बैठे हैं; ना होना कभी उदास अए मेरे दोस्त; दिल में आपकी हंसी की आस लगाये बैठे हैं। गुड मॉर्निंग!




जुदाई आपकी रुलाती रहेगी; याद आपकी आती रहेगी; पल-पल जान जाती रहेगी; जब तक जिस्म में है जान; मेरी हर सांस यारी निभाती रहेगी। गुड मॉर्निंग!



“जी लो अपनी जिंदगी इस खूबसूरत वक़्त के साथ , न जाने ये फिर आये न आये. फूलों सी आपकी जिंदगी महके , और ये वक़्त कभी न गुजर पाए. सुप्रभात !”



हँसना और हँसाना कोशिश है मेरी; हर कोई खुश रहे ये चाहत है मेरी; भले ही मुझे कोई याद करे या ना करे; हर अपने को याद करना आदत है मेरी; सुप्रभात!




“सुबह की हर धूप कुछ याद दिलाती है; हर महकती खुशबू एक जादू जगाती है; कितनी भी व्यस्त क्यों ना हो यह ज़िन्दगी; सुबह सुबह अपनों की याद आ ही जाती है। सुप्रभात



भुला दो बीता हुआ कल; दिल में बसाओ आने वाला कल; हँसो और हँसाओ चाहे जो भी हो पल; खुशियाँ लेकर आयेगा ये आने वाला कल। सुप्रभात।  



“हर सुबह की सुरुवात आपके खुबसूरत चहरे को देख कर हो, ये छोटी सी दुआ और खुबसूरत सी दुनिया हो, आप मिल जाओ हमें और ये हसरत पूरी हो. सुप्रभात !


दांतों को बराबर घिस डालने का; मोती के माफ़िक चमका डालने का; हाथ में एक कप चाय लेने का; और सभी दोस्तों को बोल डालने का। “सुबह हो गई मामू!” बोले तो – गुड वाली मोर्निंग।


“जितनी खूबसूरत ये सुबह है; उतना ही खूबसूरत आपका हर पल हो; जितनी भी खुशियाँ आज आपके पास हैं; उससे भी अधिक आने वाले कल हो। सुप्रभात! 



रात के बाद सुबह को आना ही था; गम के बाद ख़ुशी को आना ही था; क्या हुआ अगर हम देर तक सोये रहे; पर हमारा मोर्निंग मैसेज तो आना ही था। सुप्रभात!



“हँसी आपकी कोई चुरा ना पाये; कभी कोई आपको रुला ना पाये; खुशियों के ऐसे दीप जले ज़िंदगी में; कि कोई तूफ़ान भी उसे बुझा ना पाये। सुप्रभात!



फिज़ा में महकती शाम हो तुम; प्यार में छलकता जाम हो तुम; सीने में छुपाए फिरते हैं हम याद तुम्हारी; मेरी जिंदगी का दूसरा नाम हो तुम सुप्रभात!



“सुबह की हर धूप कुछ याद दिलाती है; हर महकती खुशबू एक जादू जगाती है; कितनी भी व्यस्त क्यों ना हो यह ज़िन्दगी; सुबह सुबह अपनों की याद आ ही जाती है। सुप्रभात!”



आज सुबह सूरज बिलकुल आप जैसा निकला; बिलकुल वही ख़ूबसूरती लिए; वही नूर; वही गुरुर; वही सुरूर; और वही आपकी तरह हमसे कोसो (बहुत) दूर। सुप्रभात!




“आपकी ज़िंदगी में कभी गम ना हो; आपकी आँखें कभी आंसुओं से नम ना हो; मिले आपको ज़िंदगी में सारी खुशियाँ; भले ही उस ख़ुशी में हम ना हो। सुप्रभात!